Wednesday, April 22, 2020

जादुई भूत की मजेदार हिंदी कहानी | Jadui bhoot ki funny story in hindi


जादुई भूत की मजेदार हिंदी कहानी जादुई और मजेदार कहानिया सुन्ना सभी को पसंद होता है, मज़ेदार कहानिया हमे हँसाती है और हमारा मनोरंजन करती है । इस कहानी में हम पढ़ेंगे एक जादुई भूत के बारे में जो अपने जादू से सभी को हँसाता और सबको सिख देता।
जादुई भूत की मजेदार हिंदी कहानी  | Jadui bhoot ki funny story in hindi
जादुई भूत

जादुई भूत की मजेदार हिंदी कहानी 



राम पुर गांव में बंटू नाम का एक जादुई भूत रहता था । बंटू बहुत ही अच्छा जादुई भूत था वह कभी किसी को नुकसान नही पहुँचाता था । वह भूत लोगो की मदद करता था अपने जादुई शक्ति से ।


जादुई भुत बंटू को बच्चो से बहुत प्यार था | वह बच्चो को कभी नहीं डराता था हमेशा उसके साथ खेलना चाहता था, लेकिन भूत होने के वजह से जादुई भूत के साथ कोई नहीं खेलता था |


एक दिन गांव के कुछ बच्चे बच्चे खेलते-खेलते जंगल मे चले गए । रात होने पर वो सभी बच्चे जंगल मे खो गए थे । उन्हें समझ नही आ रहा था कि वे घर वापस कैसे जाए । सारे बच्चे ज़ोर-ज़ोर से रोने लगे।


रोते हुए बच्चो को देखकर बंटू जादुई भूत वहाँ आ जाता है , भूत को देखकर बच्चे दर जाते है, और भागने लगते है । बंटू जादुई भूत उन्हें समझता है, मुझसे डरो नही मैं तुम्हारा दोस्त हूँ मैं तुम्हारी मदद करूँगा । बंटू की बात सुनकर सभी बच्चे शांत हो जाते है और एक जगह बैठ जाते है ।



बच्चे बंटू जादुई भूत को बोलते है कि उन्हें भूख लगी है । बंटू अपने जादू से सभी बच्चो को खाने के लिए खाना देता है । सभी बच्चे बंटू से पूछते है कि वह भूत कैसे बन गया । बंटू जादुई भूत सभी बच्चो को अपनी कहानी बताने लगता है ।



बंटू जादुई भूत बच्चों को बताता है कि जब वह इंसान था तो बहुत ही अत्याचारी था । लोगो को परेशान करता था । उनके सारे जमीन ले लेता और सबसे काम करता । कोई भी उसे पसंद नही करता था ।



उसका अत्याचार बहुत बढ़ गया था । उसकी वजह से बहुत लोगों ने ऊनी जान भी लेली थी । एक दिन रात में सीने में दर्द होने की वजह से उसकी मौत हो गयी । मौत के बाद भी उसे मुक्ति नही मिली वह यह वहाँ भटकने लगा ।



एक दिन बंटू भूत ने भगवान से पूछा मुझे मुक्ति क्यों नही मिल रही भगवान । भगवान ने कहा तुमनेअपने जीवन मे बहुत अत्याचार किया है, और यह उस की सजह है । भगवान ने कहा तुम लोगो की मदद करते रहो जिस दिन तुम्हारा पाप ख़त्म  ही जायेगा उस दिन तुम्हे मुक्ति मिल जाएगी ।


100 साल से मैं ऐसी ही भूत बन कर घूम रहा हूँ, और मुक्ति पाने का इंतज़ार कर रहा हूँ । बंटू ने अपनी कहानी बच्चों को बताई और सभी बच्चे को बहुत दुख हुआ बंटू भूत की कहानी सुन कर। सभी बच्चे भगवान से प्राथना करते है कि बंटू को मुक्ति मिल जाये।



बच्चो की पुकार भगवान सुन लेता है और बंटू जादुई भूत को मुक्ति दे देता है । जाते जाते बंटू भूत बच्चो को एक बात बोलता है। बच्चो जीवन मे कभी घमंड न करना हमेशा लोगों की मदद करना । क्योंकि समय बहुत  बलवान होता है, तेजी से बदलता है और कब किस का वक़्त बदल जाये कोई नही जनता । इसलिए हमेशा दूसरों की सहायता और सम्मान करो ।



इतनी बाते बता कर बंटू जादुई भूत वहा  से चला जाता है । और बच्चे आने घर पहुच जाते है । बंटू भूत की कही हुई बाते बच्चे अपने घर वालो को बताते है और गाँव के सभी लोगो को की  कभी किसी पर अत्याचार नही करना वरना तुम्हे भजन कभी मुक्ति नही देंगे



सिख : इस जादुई भूत की मजेदार हिंदी कहानी की कहानी से हमे यह सिख मिलती है हमे कभी भी किसी का बुरा नही करना चाहिये । क्योंकि  जो हम बुरा करेंगे उसका फल हमे मारने के बाद भोगना पड़ेगा ।

0 Please Share a Your Opinion.:

please do not enter any spam link