Tuesday, May 5, 2020

Hindi Love Story | Online Internet wala pyaar | हिन्दी लव स्टोरी ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार

हिन्दी लव स्टोरी ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार, पहले प्यार का ऐतबार तो खातों और पेपर में लिख कर होता था । आज दुनिया इतनी बदल गयी है, की अब लोगो को भी ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार होने लगा है ।
Hindi Love Story | Online Internet wala pyaar | हिन्दी लव स्टोरी ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार
हिन्दी लव स्टोरी ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार

पहले प्यार होने पर लोग अपने प्यार की एक झलक  देखने के लिए घंटो इंतेज़ार करते थे उसके बाहर आने का और आज तो ऑनलाइन इंटरनेट वाले प्यार में 1 सेकंड में एक दूसरे की फ़ोटो देख सकते है ।

हिन्दी लव स्टोरी ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार


यह कहानी है सना नाम की लड़की और सौरभ नाम के लड़के की जीने भी दूसरों की तरह इंटरनेट पर ऑनलाइन वाला प्यार हो गया । सौरभ शहर का वादक था और वह शहर में एहत था, वही सना गांव की लड़की आने गाव में रहती थी ।

गांव में सौरभ के मामा की शादी थी, जिसके लिए सौरभ को शहर से गांव जाना पड़ा शादी के लिए । गांव आकर सौरभ बहुत खुश था बहुत मज़े कर रहा था । गाव में सौरभ को पहली बार सना दिखाई दी । सना को देखकर सौरभ के होश उड़ गए । सना बहुत ही खूबसूरत और समझदार लड़की थी । सौरभ को मानो पहली नज़र वाला प्यार हो गया था सना से पहली बार मे ।

 सौरभ कभी सना से बाते नही कर पाया और शादी के बाद वह वापस शहर आ गया । शहर आने के बाद भी उसे हर वक़्त सना का ही ख्याल आता था । सौरभ कैसे भी एक बार सन से बातें करना चाहता था । 

एक सौरभ अपने मोबाइल में इंटरने इस्तेमाल कर रहा था । तभी फेसबुक(Facebook) पर उसे सना दिखाई देती है । सना को फेसबुक पर देखकर सौरभ बहुत खुश होता है और उसे फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज देता है । सौरभ इंतेज़ार करता है कि कब सना उसे अपना फ्रेंड बबनाएँगी । 2 दिन बीत जाते है केकिन सन सौरभ का फ्रेंड रिक्वेस्ट नही स्वीकारती है ।

सौरभ को लगता है शायद उसके जीवन मे सना से मिलना नही लिखा है । तभी एक रात में सौरभ को मैसेज आता है सना तुम्हारी नई इंटरनेट दोस्त है । सौरभ उस दिन बहुत खुश होता है । सौरभ सोचता है कि सेना से कैसे बाते सुरु करे वो तो उसे जानती भी नही होगी, अगर उसने उससे बाते नही किये तो, सौरभ बहुत कुछ सोच रहा था तभी उसने सना को hello मैंसेज किया ।

रात को 10 बजे सन का मैसेज आता है, उस मैसेज देख सौरभ बहुत खुश होता है । सना पूछती है तुम सौरभ हो न जो शहर में रहते हो । सौरभ बहुत आश्चर्य में पड जाता है कि सना मुझे कैसे जानती है । सना उसे बताती है उसने उसे शादी में देखा था ।

फिर क्या था दोनो इंटेटने पर बहुत अच्छे दोस्त बन गए । कोई भी ऐसा दिन नह था, जिस दिन उनकी बातें नही होती थी । ये दोत्ती कब प्यार में बदल गयी उन्हें भी नही पता चला । अगर हम किसी से रोज़ बाते करने लगे तो वो हमारे जीवन का बहुत प्यार हिसा हो जाता है ।

शायद किसी की वयार की नज़र लग गयी इन्हे, और सना फिर कभी इंटरने ओर ऑनलाइन नही आयी । इनका इंटरनेट ऑनलाइन वाला प्यार अधूरा रह गया । सौरभ सना का इंतज़ार करता रहा लेकिन फिर कभी उसे सना ऑनलाइन इंटरनेट पर नही मिली ।

सौरभ सब कुछ भूल कर अपने काम मे लग गया । सौरभ बहुत मेहनत और लगन से अपने काम करता और जीवन मे बहुत बड़ा आदमी बनने का ख्वाब देखता । एक दिन वह जहा काम करता था वही काम करने के लोए सना आयी । पहली बार मे सौरभ ने सना को पहचान नही फिर बाद में उसे एहसाह हुआ ये तो मेरी सना है ।


उसके दिल मे जो ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार था वह वापस से बाहर आ गया । फिर क्या था फोनो आपास में मिले बाते किये और अपने बचपन वाले ऑनलाइन इंटरनेट प्यार में खो गए ।

इसी तरह एक ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार जो हकीकत बन कर सना और सौरभ की ज़िंदगी बनी ।

प्यार चाहे खतो से हो या इंटरने से प्यार तो प्यार होता है । जहाँ सच्चा प्यार होता है वहाँ एक दूसरे का मिलना तय होता है ।

हिन्दी लव स्टोरी ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार कहानी से हमे ऑनलाइन प्यार पर यकीन है ।

क्या आपको विशवास करते है ऑनलाइन इंटरनेट वाला प्यार पर  ? अगर है हैं तो हमे comment कर जरूर बताएं धन्यवाद ।

0 Please Share a Your Opinion.:

please do not enter any spam link