Tuesday, June 2, 2020

बचपन का पहला मासूम प्यार की हिंदी कहानी । Romantic childhood true love story in Hindi

 बचपन का पहला मासूम प्यार की हिंदी कहानी, बचपन का पहला मासूम प्यार बहुत ही मासूम और सच्चा प्यार होता है । प्यार तो हम सभी करते हैं, लेकिन अपने बचपन का प्यार सिर्फ नसीब वालों को ही मिलता है ।
बचपन का पहला मासूम प्यार की हिंदी कहानी । Romantic childhood true love story in Hindi
बचपन का पहला मासूम प्यार 

ऐसी यह बचपन का पहला मासूम प्यार की हिंदी कहानी, है एक लड़की की जिसे अपने बचपन का प्यार छुटने के बाद मिला ।

बचपन का पहला मासूम प्यार 

राजेश नाम का एक लड़का गांव में रहता था और उसी गांव में एक लड़की रहती थी । राजेश उस लड़की को बचपन से जानता था, और उसके साथ खेला करता था । राजेश उसके साथ स्कूल जाता साथ वक़्त बिताता ।

जाने कब राजेश को उस ,लड़की से सच्चा प्यार होने लगा और उस लड़की के लिए राजेश के मन में प्यार की भावना उत्पन्न हो गयी । राजेश कर उस लड़की को यह बात बता न पाया कि वह उससे कितना प्यार करता है ।

लेकिन राजेश हमेशा उसकी खुशी और उसके साथ खेलता रहता था । जब राजेश 10 साल का हुआ तो उसे अपने माता-पिता के साथ दूसरे गांव जाना पड़ा । राजेश जाना तो नहीं चाहता था, उसे छोड़कर लेकिन अपने माता-पिता के कारण उसे अपने बचपन का प्यार छोड़ना पड़ा चला गया ।

लेकिन वह उस लड़की को भुला नहीं था  । देखते ही देखते राजेश बहुत बड़ा हो गया और काम करने लगा आज भी उसके दिल में उसके बचपन का मासूम प्यार कहीं ना कहीं बसा हुआ था ।

1 दिन राजेश काम के लिए अपने दफ्तर जा रहा था, तभी उसने रास्ते में एक लड़की को देखा । उस लड़की को देखने के बाद उसे आभास हुआ जैसे उसके बचपन का प्यार है । लेकिन राजेश जकड़ी में था इसलिए उसने बातें नहीं की ।

राजेश दफ्तर पहुंचता है, और वह लड़की वही होती है । शायद उस लड़की को वह नौकरी लग गयी थी । धीरे-धीरे राजेश और उसकी दोस्ती हुई और दोनों में एक दूसरे से बात करना शुरू किया ।

बातें करने से राजेश को उसके बचपन के प्यार एहसास हुआ । वही एहसास इस लड़की से बातें करने पर हुआ जैसे उसके बचपन का प्यार उसके सामने हो ।

राजेश ने उस लड़की के फोन में अपनी बचपन की तस्वीर देखी है । वह समझ गया कि यही है उसेक बछोङ का प्यार । उस लड़की को अपनी बातें बताएं की वह उसे बचपन मे कितना प्यार करता था । लेकिन तुम्हे कभी बता नही पाया । 

एक दूसरे से वापस मिल कर दोनों बहजत खुश हुए । उसके बाद दोनों साथ-साथ रहने लगे और उनके बचपन का प्यार मिल गया ।

क्या आप विश्वास करते है बचपन का पहला मासूम प्यार में हमे ज़रूर बताये ।

0 Please Share a Your Opinion.:

please do not enter any spam link